हवाई जहाज उड़ाने वाले पायलट कैसे बने? | pilot kaise bane?

pilot kaise bane? यदि आप स्कूल में पढ़ाई कर रहे होंगे और आपको जहाज उड़ाने के लिए पागल बनने की सपना देख रहे होंगे तो मैं आपको बताना चाहूंगा कि आप सही कैरियर को भी चुन रहे हैं।

क्योंकि दोस्तों जो सपना देखता है वही वह सपनों को पूरा भी करता है। तो दोस्तों अब बताता है कि हवाई जहाज उड़ाने के लिए pilot kaise bane? आज मैं आपको इस आर्टिकल के माध्यम से बताऊंगा। 

 

कि आपको कहां पर पायलट बनने के लिए पढ़ाई करने के लिए ज्वाइन करना होगा और इसका ट्रेनिंग कैसा होता है कितना एज की जरूरत होती है और आपको कितने समय का एक्सपीरियंस लेना पड़ता है।

 

इन सभी चीजों को जाने के लिए आप इस आर्टिकल को शुरू से लेकर अंत तक जरूर पढ़िए मैं आपको पायलट के pilot kaise bane? बारे में सब कुछ जानकारी यहां पर देने वाला हूं।

पायलट किसे कहते हैं? और पायलट कैसे बने?

पायलट एक विमान चालक को कहते हैं जो एअर क्राफ्ट,फाइटर जेट, कमर्शियल फ्लाइट औ हेलीकॉप्टर जैसे विमान को चलाते हैं आप लोग देखा ही होगा जब आप रनवे में या हवाई अड्डा के आस पास घूमने के लिए जाते होंगे तब आपको भी लगा होगा कि काश मैं भी ऐसी ही विमान चलाने के लिए एक चालाक होता।

पायलट कितने प्रकार का होता है?

पायलट वैसे बनना चाहते हैं?  तो वो दो प्रकार की पायलट होता है एक पायलट होता है एयर फोर्स की पायलट दोस्तों आप लोग वीर कमांडर अभिनंदन को जानते होंगे जो पाकिस्तान के एरिया में घुस गया था लेकिन बाद में फिर भारत को दे दिया गया था इसे आपने न्यूज़ में जरूर सुना होगा तो दोस्तों इस तरह के पायलट को एयर फोर्स पायलट कहते हैं या मिलिट्री फोर्स पायलट कहते हैं। 

 

अब आते हैं कि कमर्शियल पायलट किसे कहते हैं दोस्तों आपने इंडिगो एयर इंडिया स्पाइसजेट एयरपोर्ट जैसे फ्लाइट को उड़ते हुए रनवे पर देखा जरूर होगा इसमें लोगों को एक देश से दूसरे देश में यात्रा कराने के लिए होता है। समान को एक राज्य से दूसरे राज्य भी ट्रांसपोर्ट किया जाता है।

पायलट बनने के लिए क्या क्या शिक्षण आवश्यकता होती है?

 

1. सबसे पहले आपको भारत की नागरिकता प्राप्त होने चाहिए तभी आप पायलट बन सकते हैं।

 

2. आपकी उम्र 18 साल से 32 साल के बीच में होनी चाहिए

 

3. उसके बाद आपको 6 बाई 6 के vision को अटेंड करना चाहिए। यदि आपकी आंख कमजोर है तो आप लेंस यूज कर सकते हैं।

 

4. यदि आप को कलर ब्लाइंड की प्रॉब्लम है तो आप पायलट नहीं बन सकते।

 

5. आपको 11वीं और 12वीं कक्षा को फिजिक्स, मैथ्स और इंग्लिश के साथ कम से कम 55 परसेंट marks से पास होना चाहिए। 

 

6. और वह स्टूडेंट जो साइंस स्ट्रीम से नहीं है और वह कॉमर्स और आर्ट्स से है उनको खुद से पढ़ाई करके एनआईओएस(NIOS) से एग्जाम दिलाना पड़ता है।

 

7. सबसे मेन आवश्यकता आपको fourth standard का इंग्लिश बोलना आना चाहिए। 

पागल पढ़ने के लिए पायलट बनने के लिए किस प्रकार के ट्रेनिंग करना चाहिए?

 

दोस्तों आप दो तरीके से पायलट बन सकते हैं पहला flying school और दूसरा codet पायलट प्रोग्राम इन दोनों पायलट बनने की तरीकों को जाना आपको बहुत ही जरूरी है इसे जाने के बाद आप क्यों सकते हैं कि आपके लिए कौन सा बेहतर रहेगा भारत देश में अलग अलग तरीके से पायलट बनने के लिए ट्रेनिंग दिया जाता है।

मेरे दोस्तों जानते हैं सबसे पहला फ्लाइंग स्कूल ट्रेनिंग को

 

1.Flying school 

 

सबसे पहले आपको डीजीसीए से अप्रूवल मिले हुए स्कूल में आपको एडमिशन लेना होगा। वो  DGCA के official website www.dgca.nic.in में आपको स्कूल के बारे में जानकारी मिल जाएगी।

 

Flying school में एडमिशन लेने के लिए सबसे पहले आपको उस स्कूल के एंट्रेंस एग्जाम को देना होगा उसके बाद आपका इंटरव्यू होगा उसके बाद आप का मेडिकल टेस्ट होगा। 

 

जैसे ही आपका फ्लाइंग स्कूल में आपका एडमिशन होता है तो आपको एसपीएल (SPL) मतलब स्टूडेंट पायलट लाइसेंस student pilot license दिया जाएगा। 

 

इस लाइसेंस के तहत आप विमान को एक विद्यार्थी या सीखने वाले के रूप में चला सकते हैं।

 

जब आप 60 घंटे की उड़ान कंप्लीट कर लेते हैं तो आपको PPL (private pilot license) का license मिल जाता है। 

 

जब आप  210 घंटे की उड़ान को कंप्लीट कर लेते हैं तो आपको CPL( commercial pilot license) की लाइसेंस मिल जाती है जो कि सभी कमर्शियल या लाइन को चलाने के लिए आवश्यक होती हैं।

 

यह सभी चीजें आपको फ्लाइंग स्कूल में पढ़ने के दौरान करनी होती है जो कि आपको 18 से 24 महीने लगते हैं।

 

अब बात करते हैं कि flying school में पढ़ाई करने के लिए कितनी फीस की जरूरत होती है flying स्कूल में पढ़ने के लिए आपको लगभग 30 से 40 लाख की फीस लगती है। अलग-अलग flying school पर अलग-अलग फीस डिपेंड करता है।

 

सीपीएल (CPL) लाइसेंस मिलने के बाद आप किसी भी air iline में जॉब के लिए अप्लाई कर सकते हैं।

 

जिस भी कंपनी में जॉब के लिए अप्लाई करते हैं वहां आपको टाइप रेटिंग ट्रेनिंग दी जाती है जिसकी कुल खर्चा 30 से 40 लाख होती है।

 

दोस्तों प्लेन कई प्रकार के होते हैं जो अपने फ्लाइंग स्कूल में ट्रेनिंग के दौरान सीखे हो वो अलग प्रकार के प्लेन होते हैं और जो आपने जहां पर जॉब के लिए अप्लाई किए हैं वहां पर के प्लेन अलग तरह के होते हैं।

यदि आप फ्लाइंग स्कूल से पढ़ाई करके पायलट बनते हैं तो आपको टोटल खर्चा 60 से 80 lacs के बीच में आएगी। यह अलग-अलग फ्लाइंग स्कूल और अलग-अलग एयरलाइन की ट्रेनिंग की फीस पर डिपेंड करती है।

 

 

2.cadet pilot program 

 

अलग-अलग एयरलाइन का कैडेट पायलट प्रोग्राम होता है इंडिगो कार airline का पायलट प्रोग्राम  अलग होता है और एयर इंडिया का  कैडेट पायलट प्रोग्राम अलग होता है इसी तरह अलग-अलग कंपनियों का पायलट कैडेट प्रोग्राम अलग होता है। 

 

किसी भी कंपनी के कैडेट पायलट प्रोग्राम में ज्वाइन करने के लिए रिक्वायरमेंट होती है उसे हमने ऊपर आपको 7 रिक्वायरमेंट बता दी है वह वैसे ही होती है।

 

उसके बाद आपका एंट्रेंस एग्जाम होता है फिर उसके बाद इंटरव्यू होता है उसके बाद आप का मेडिकल टेस्ट 1 और 2 होता है।

 

और इस पूरे प्रोग्राम को कंप्लीट करने में आपको 18 महीना लगते हैं।

 

दोस्तों आपको कैडेट पायलट प्रोग्राम करने के 2 फायदे हैं पहला फायदा यह है कि आपको type rating करना नहीं पड़ेगा और दूसरा फायदा यह है कि आपको जॉब ढूंढने की जरूरत नहीं पड़ेगी आपको यहीं पर आपको जॉब मिल जाएगी।

 

दोस्तों अब बात करते हैं कैडेट पायलट प्रोग्राम की फीस कितनी होती है? तो मैं आपको बता दूं कि इसका फीस कितना होता है? इसका आप को 80 से एक करोड़ के बीच में आपको लगेगा।

 

इसमें आपको इतनी ज्यादा फीस लिया जाता है क्योंकि टाइप रेटिंग नहीं होती है और दूसरा आपको यहीं पर जॉब मिल जाती है।

एक पायलट की सैलरी कितनी होती है?

 

दोस्तों आपको एक पायलट की सैलरी अलग-अलग देखने को मिलेगी क्योंकि दोस्तों यह अलग-अलग पोस्ट और अलग-अलग एयरलाइन के ऊपर डिपेंड करती है और आपके प्रमोशन धीरे-धीरे बढ़ती है तो आपका सैलरी की बढ़ती है।

1.junior first officer – Rs. 50,000/m

2.first officer – Rs. 200,000/m

3.senior first officer – Rs. 3,50,000/m

4. Captain – Rs. 600,000/m

दोस्तों ऐसी जॉब पाने के लिए सभी का सपना होता है क्योंकि दोस्तों इस जॉब में आपको बहुत ही ज्यादा सैलरी दिया जाता है और आपको अलग-अलग देश को घूमने को मिलता है आपको अलग-अलग प्लेन बादलों में उड़ाने को मिलता है।

इस आर्टिकल से आपने क्या सीखा है?

दोस्तों मैं आपको इस आर्टिकल के माध्यम से पायलट कैसे बने? Pilot kaise bane?  और पायलट की सैलरी कितनी होती है? और आपको पायलट बनने के दौरान किन किन परीक्षाओं को देना पड़ता है? और आपको 12class में कितने परसेंट की जरूरत होती है?  मैं pilot kaise  bane? इसकी की जानकारी इस पोस्ट में मैंने आपको दिया है तो दोस्तों इस पोस्ट को पढ़ने के बाद पायलट बनने के लिए आप जाते है तो आप को all the best.

Leave a Comment